Corona Ke Andhere Mein Ujale Ki Kavitayen

₹120.00

₹150.00

rating
  • Ex Tax:₹120.00

इस कविता संग्रह के नाम में ही वह ऊर्जा है जो पाठकों को कोरोना महामारी से न केवल लड़ने, बल्कि उससे विजयी होने की ताकत देगी । कविता की शक्ति अनंत है और वह कवि के हृदय में करुणा बनकर बहती है । डॉ– अनुपमा गुप्ता ने निश्चित ही इस दौर में करोड़ों देशवासियों ..

इस कविता संग्रह के नाम में ही वह ऊर्जा है जो पाठकों को कोरोना महामारी से न केवल लड़ने, बल्कि उससे विजयी होने की ताकत देगी । कविता की शक्ति अनंत है और वह कवि के हृदय में करुणा बनकर बहती है । डॉ– अनुपमा गुप्ता ने निश्चित ही इस दौर में करोड़ों देशवासियों के भय और पीड़ा को अनुभूत किया है और उससे उबरने की इन कविताओं में राह दिखाई है । उन्हें कोटिश' : बधाई और शुभकामनाएं कि वे अपनी काव्य साधना से जन–मन और जीवन को विस्तार देती रहें ।

Write a review

Note: HTML is not translated!
    Bad           Good