Dharmik Budhivada Kabir Se Shri Narayan Guru Tak (HB)

₹175.00
rating
  • Ex Tax:₹175.00
  • Product Code:ISBN: 978-9382553625
  • Availability:In Stock

संपूर्ण विश्व में मानव समाज द्वारा कतिपय विशिष्ट नियमोपनियों का पालन किया जाता है । ऐसे सार्वभौमिक तथा सार्वजनिक नियमों अथवा सिद्धान्तों को जो समाज में किसी न किसी रूप में मान्य हो धर्म की संज्ञा दी जाती है । धर्म एक संस्था है जो मानव को सही रास्ते प..

संपूर्ण विश्व में मानव समाज द्वारा कतिपय विशिष्ट नियमोपनियों का पालन किया जाता है । ऐसे सार्वभौमिक तथा सार्वजनिक नियमों अथवा सिद्धान्तों को जो समाज में किसी न किसी रूप में मान्य हो धर्म की संज्ञा दी जाती है । धर्म एक संस्था है जो मानव को सही रास्ते पर चलने की शिक्षा देता है और साथ ही आत्यंतिक सत्य को जानने की कोशिश भी कराता है ।

Write a review

Note: HTML is not translated!
    Bad           Good