Sansmaran | Memoir

Showing 1 to 1 of 1 (1 Pages)

Mere Jail ke Anubhav (PB)

₹75.00

मैंने मुख्य दारोग"ा से कहा कि मेरे बाल और मूँछ कटवा दीजिए । उसने कहा, गवर्नर ने सख्त मुमानियत की है । मैंने कहाµमुझे मालूम है कि गवर्नर मुझे बाध्य नहीं कर सकते, परन्तु मैं तो अपनी राजी से बाल कटवाना चाहता हूं । उसने कहा, गवर्नर से अर्ज करो । दूसरे दि..

Showing 1 to 1 of 1 (1 Pages)